शांति निकेतन विद्यापीठ विद्यार्थियों ने पुस्तकों के महाकुंभ २७वे विश्व पुस्तक मेले का भ्रमण कर पुस्तकों के बारे में की जानकारी प्राप्त

49452256_2430197900387567_1794913287364673536_nशांति निकेतन विद्यापीठ विद्यार्थियों ने नई दिल्ली के प्रगति मैदान में राष्ट्रीय पुस्तक न्यास द्वारा आयोजित 27वें ‘विश्व पुस्तक मेला 2019’ (World Book Fair-2019) का भ्रमण कर पुस्तकों के बारे में जानकारी प्राप्त की।
विद्यार्थियों ने विश्व पुस्तक मेले की थीम ‘रीडर्स विद स्पेशल नीड्स’ (‘Readers with Special Needs’) विशेष बच्चों पर केंद्रित पुस्तकों की भी विस्तृत जानकारी प्राप्त की।
इस पुस्तक मेले में विद्यार्थियों ने अतिथि देश’ के तौर पर भाग ले रहे शारजाह ‘एवं चीन, श्रीलंका, नेपाल समेत करीब 20 देशों के स्टालों का बहुत भ्रमण किया एंव प्रकाशकों से मुलाकात की। इसके साथ ही अंतरराष्ट्रीय विकलांगता फिल्म महोत्सव ‘वी केयर’ में 27 देशों की ओर से फिल्म स्क्रीनों पर प्रदर्शन भी देखा । मेले के थीम पवेलियन में विशेष तौर पर ब्रेल किताबें, ऑडियो किताबें, प्रिंट-ब्रेल किताबें, लोगों व बच्चों और दिव्यांग लोगों के लिए प्रदर्शित की गई पुस्तकों की जानकारी प्राप्त पाने में बच्चों ने विशेष दिलचस्पी दिखाई।
पुस्तक मेले से लौटे छात्रों ने बताया कि उन्हें शैक्षिक वातावरण तैयार करने के लिए एक अच्छा अनुभव मिला है। मेले में उन्हें कई अच्छी पुस्तकें देखने को मिली। शिक्षकों की देखरेख में उन्होंने पुस्तकों का विश्लेषण भी किया।
विद्यार्थियों ने कहा कि एक तरफ जहां किताबों पर छूट मिली, तो दूसरी तरफ पसंदीदा लेखकों से मिलने का मौका भी मिला।
निदेशक श्री विशाल जैन ने विद्यार्थियों का उत्साहवर्धन किया।
निदेशक श्री विशाल जैन ने बताया कि इस शैक्षणिक भ्रमण का मकसद बच्चों में पुस्तकों के प्रति रुचि को जागृत करना था। विद्यार्थियों को इन गतिविधियों में रूचि लेनी चाहिए। छात्रों को अपने शैक्षणिक काल के बाद भी पुस्तकों का साथ नही छोड़ना चाहिए।
प्रधानाचार्या श्रीमती विभा गुप्ता ने बच्चों का उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि आज के डिजिटल युग में भी पुस्तक की महत्ता कम नहीं हुई है उसका स्वरूप बदला है। इस प्रकार के शैक्षणिक भ्रमण से विद्यार्थियों की ज्ञान में वृद्धि होती है।